जबलपुर,  गेंहॅं खरीदी केन्द्र बेलखेड़ा, उडऩा मेढ़ी में उपार्जन नीति एवं जिला स्तर से जारी निर्देशों के विपरीत गेहू का उपार्जन कर, ई उपार्जन पोर्टल पर किसानों के नाम से फर्जी प्रविष्टि करने वाले समिति प्रबंधक, केन्द्र प्रभारी एवं ऑपरेटर के विरूद्ध धोखाधडी का प्रकरण दर्ज किया गया है। इस संबध में  थाना पाटन से प्राप्त जानकारी के अनुसार पाटन में कनिष्ठ आपूर्ति अधिकारी के पद पर पदस्थ श्रीमती वसुंधरा पेन्ड्रो ने लिखित शिकायत दर्ज करा आरोप लगाय था कि वे पाटन में कनिष्ठ आपूर्ति अधिकारी के पद पर कार्यरत है । विगत दिवस  विवेक तिवारी जिला विपणन अधिकारी खरीदी केन्द्र बेलखेड़ा, उडऩा मेढ़ी निरीक्षण के समय गंभीर अनियमितता होना पाया था। उन्होंने इस बात को उनसे बताया था कि गेंहूँ खरीदी मेंं गड़बड़ी हुई और शासन को चपत लगी है। श्रीमती पेन्ड्रो के अनुसार  उन्होंने निरीक्षण में देखा था कि किसानों के फर्जी नाम प्रविष्ठ कर खरीदी दर्शाई गई है। खरीदी केन्द्र समिति प्रबंधक, खरीदी प्रभारी एव आपरेटर द्वारा उपार्जन नीति एवं जिला स्तर से जारी निर्देशों के विपरीत गेहू का उपार्जन किया गया है तथा ई उपार्जन पोर्टल पर मात्रा 685 मेटिक टन राशि 1,32,05,500 रूपये की फर्जी प्रविष्टि कर धोखाधड़ी की गई है। पुलिस ने लिखित शिकायत की जाँच शुरू की तो यह सामने आया कि उपार्जन पोर्टल प्रविष्टि में गंभीर अनियमितताएं बरती गई हैं। इस कृत्य में श्रीमती पेन्ड्रों द्वारा जिनके नाम का उल्लेख किया गया है उनकी भूमिका संदिग्ध है। सूक्ष्म जांच में सुबूत मिले कि केन्द्र क्रमंक 3 व 4 के समिति प्रबंधक, केन्द्र प्रभारी एवं ऑपरेटर द्वारा उपार्जन नीति एवं जिला स्तर से जारी निर्देशों के विपरीत गेहू का उपार्जन किया गया तथा ई उपार्जन पोर्टल फर्जी प्रविष्टि कर धोखाधडी की गई है। जांच के बाद पाटन थाना में खरीदी केंद्र बेलखेड़ा, उडऩा, मेढ़ी केंद्र क्रमांक 3 एवं 4 के समिति प्रबंधक मुन्ना लाल बरखेड़ा, खरीदी प्रभारी रोहित शर्मा एवं आपरेटर अनुज दुबे के विरूद्ध धारा 420,467,468,470,34 भा.द.वि. का अपराध  किया गया है।