वॉशिंगटन । अमेरिका में नवंबर में राष्ट्रपति पद के लिए चुनाव होने वाले हैं और राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप किताबी भूतों से अपना पीछा नहीं छुड़ा पा रहे। जॉन बोल्टन के बाद अब ट्रंप की खुद की भतीजी मैरी ट्रंप की आने वाली किताब ने हंगामा मचा दिया है। इस किताब में मैरी ने राष्ट्रपति के बचपन से जुड़े ऐसे खुलासे किए हैं जिन्होंने अभी से लोगों के होश उड़ा रखे हैं। आलम यह है कि पहले 28 जुलाई को रिलीज की जानी वाली किताब को 14 जुलाई को ही रिलीज किया जाएगा। पब्लिशर्स का कहना है कि बेहद ज्यादा मांग और लोगों की दिलचस्पी की वजह से यह बेस्ट सेलर की लिस्ट पर पहले ही नंबर वन हो चुकी है। अपने संस्मरण टू मच ऐंड नेवर इनफ: हाऊ माई फैमिली क्रिएटेड द वल्ड्र्स मोस्ट डेंजरस मैन में मैरी ने बताया है कि डोनाल्ड ट्रंप को उनके पिता फ्रेडी ट्रंप सीनियर प्रताडि़त करते थे। डोनाल्ड के बड़े भाई फ्रेड जूनियर की बेटी मैरी ट्रंप ने दावा किया है कि ट्रंप के पिता ट्रंप सीनियर को प्यार का मतलब नहीं पता था, वह सिर्फ आज्ञा का पालन चाहते थे जो डोनाल्ड को जबरदस्ती करना पड़ता था।
पिता करते थे आतंकित 
डोनाल्ड की मां तब बीमार हो गई थीं जब वह दो साल के थे और उनकी परवरिश पिता करते थे जो उन्हें आतंकित करते थे। वह काम में मशगूल रहते थे और डोनाल्ड पर ध्यान नहीं देते थे। उन्हें लगता था कि बच्चों की परवरिश उनकी जिम्मेदारी नहीं है और वह हफ्ते में 6 दिन 12-12 घंटे तक ट्रंप मैनेजमेंट में काम करते थे। इसका गहरा असर डोनाल्ड के जीवन पर पड़ा। उन्हें पिता से प्यार या अटेंशन मांगने में डर लगता था।
गलती मानना नहीं, चीटिंग करना सीखा
मैरी के मुताबिक ट्रंप परिवार में गलतियों की जिम्मेदारी लेना नहीं, बल्कि चीटिंग करने को बढ़ावा दिया जाता है। मैरी ने यह भी आरोप लगाया है कि ट्रंप परिवार ने फ्रेड सीनियर की मानसिक हालत का फायदा उठाकर उन्हें और उनके भाई फ्रेड ट्रंप को वसीयत से बाहर कर दिया। मैरी और फ्रेड के पिता फ्रेड जूनियर की 1981 में शराब की लत के कारण मौत हो गई थी।