अंबाला  । कोरोना वायरस की संभावित वैक्सीन 'कोवैक्सीन' के तीसरे चरण के ट्रायल के तहत हरियाणा के स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने स्वेच्छा से इसे लगवाने की पेशकश की, जिसके बाद उन्हें शुक्रवार को यह टीका लगाया जाएगा। भाजपा के 67 वर्षीय वरिष्ठ नेता ने कहा कि उन्हें अंबाला छावनी के सिविल अस्पताल में परीक्षण के तौर पर टीका लगाया जाएगा। यह टीका स्वदेशी तौर पर विकसित किया जा रहा है। हरियाणा में कोवैक्सीन के तीसरे फेज का ट्रायल शुक्रवार से शुरू हो रहा है। विज ने ट्वीट किया पीजीआई रोहतक के डॉक्टरों और स्वास्थ्य विभाग के दल की निगरानी में मुझे अंबाला छावनी के सिविल अस्पताल में कोरोना वायरस के टीके 'कोवैक्सीन का परीक्षण टीका लगाया जाएगा जो भारत बायोटेक का प्रोडक्ट है। उन्होंने कहा कि वह परीक्षण के तौर पर टीका लगाने के लिए स्वेच्छा से आगे आए थे। विज अंबाला छावनी से विधायक हैं। उन्होंने बुधवार को कहा था कि हरियाणा में 20 नवंबर से कोवैक्सीन के तीसरे चरण का परीक्षण होगा। उन्होंने कहा कि वह परीक्षण के तहत सबसे पहले टीका लगाने के लिए तैयार हैं। पिछले महीने भारत बायोटेक ने कहा था कि उसने पहले और दूसरे चरण के परीक्षण के आंकड़ों का विश्लेषण सफलतापूर्वक पूरा कर लिया है। अब इसके बाद भारत बायोटेक 26,000 भागीदारों पर तीसरे चरण का ह्यूमन ट्रायल शुरू करने जा रही है। बताया जा रहा है कि देश के अलग-अलग जगहों पर इसका ट्रायल होगा और इसी कड़ी में हरियाणा में भी इसके तीसरे चरण का ट्रायल होगा। बता दें कि दवा बनाने वाली कंपनी भारत बायोटेक कोविड-19 के लिये अपने वैक्सीन टीके को अगले साल दूसरी तिमाही में पेश करने की योजना बना रही है। कंपनी के एक शीर्ष अधिकारी ने कहा कि भारतीय नियामक प्राधिकरणों से अपेक्षित मंजूरी मिल जाने की स्थिति में कंपनी की यह योजना है।