नई दिल्ली। कोरोना काल में चीन के साथ लद्दाख सीमा पर चल रहे विवाद के बीच भाजपा के साथ राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के आनुषंगिक संगठन भी लोगों के बीच जाकर एकजुटता के लिए काम करेंगे। विपक्ष खासकर कांग्रेस द्वारा सरकार को लेकर उठाए जा रहे सवालों के जवाब भी दिए जाएंगे।

सूत्रों के अनुसार, बीते दिनों भाजपा और संघ के वरिष्ठ नेताओं के बीच कोरोना समेत चीन, नेपाल, पाकिस्तान समेत विभिन्न मुद्दों पर विचार विमर्श किया गया है। इसमें मौजूदा हालात में देश के भीतर एकजुटता की भावना पैदा करना और हर संकट का सामना करने के लिए लोगों को तैयार करना है।

भाजपा और संघ का मानना है कि कोरोना काल में जब लोगों की दिक्कतें बढ़ी हुई है और रोजगार से लेकर अर्थव्यवस्था तक हालात अच्छे नहीं है, तब देश को मजबूती से खड़ा करना जरूरी है। सूत्रों के अनुसार, इन बैठकों में भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा, महामंत्री बीएल संतोष और संघ के बड़े नेता सुरेश भैया जी जोशी के बीच मंत्रणा हुई है।

भारत सरकार अंतरराष्ट्रीय मंच पर तो चीन को लेकर कूटनीतिक प्रयास कर रही है, देश के भीतर के हालातों के लिए भाजपा पूरी तरह सक्रिय हो गई है। इसमें संघ परिवार भी सहयोग कर रहा है। नेपाल के साथ हाल के विवाद के बाद संघ परिवार भी सक्रिय हो गया है और वहां के लोगों और संगठनों के साथ चर्चा कर दोनों देशों के रिश्ते पहले की तरह मजबूत बनाए जाने की कोशिश कर रहा है।