कानपुर| विकास दुबे का भाई दीप प्रकाश उर्फ दीपक पर 20 हजार रुपए का इनाम घोषित होने के बाद पुलिस ने फिर से उसकी तलाश तेज कर दी है। इसी कड़ी में कानपुर पुलिस की एक टीम मंगलवार रात को कृष्णानगर पुहंची। पुलिस टीम ने दीपक के घर में मौजूद दो लोगों से पूछताछ की, फिर कृष्णानगर पुलिस से संपर्क किया। इस बीच उनकी मां ने कहा कि दीप प्रकाश, कृपया सामने आओ और आत्मसमर्पण कर दो वरना पुलिस आपको और आपके परिवार को मार देगी। मां ने कहा कि पुलिस कुछ नहीं करेगी बल्कि आपको सुरक्षा मिलेगी। तुम अपने भाई विकास दुबे की वजह से छुप रहे हो, लेकिन तुमने कुछ किया नहीं है। दीप प्रकाश पर रविवार को पुलिस ने इनाम घोषित किया था। दीप प्रकाश पर कृष्णानगर कोतवाली में मुकदमा दर्ज हुआ था। दीप पर आरोर था कि उनसे विकास के साथ नीलाम हुई कार को उसके मालिक से जबरन ले लिया था। दीप कानपुर कांड के बाद से ही घर से फरार हो गया था। उसके घर से ही नीलामी में ली गई कार बरामद हुई थी।

विकास दुबे बोला था- इतना बड़ा कांड करूंगा कि याद रहेगा
चाहे जिंदगी भर फरारी करनी पड़े या चाहे जीवन भर जेल काटूंगा लेकिन बहुत बड़ा कांड करूंगा। जी हां, ये बात विकास दुबे ने फोन पर चौबेपुर थाने के एक सिपाही से की थी। अब इसका ऑडियो वायरल हो रहा है। यह बातचीत विकास दुबे के ऊपर मुकदमा लिखवाने से पहले का है। इस ऑडियो के वायरल होने से यह स्पष्ट हो गया है कि विकास दुबे ने पहले से ही पुलिस वालों को मारने की प्लानिंग तय कर रखी थी।